जिला पूर्ति अधिकारी ने खाद्यान्न वितरण के संबंध में दी जानकारी

(ओमप्रकाश ‘सुमन’)

पलियाकलां (खीरी )लखीमपुर 03 मई 2021। जिला पूर्ति अधिकारी विजय प्रताप सिंह ने बताया कि आयुक्त, खाद्य तथा रसद विभाग, उ0प्र0 जवाहर भवन, लखनऊ द्वारा लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत नियमित योजना के खाद्यान्न का वितरण माह मई, 2021 में 05 मई से 14 मई के मध्य राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत आच्छादित अन्त्योदय तथा पात्र गृहस्थी योजना के लाभार्थियों में कराये जाने हेतु निम्नलिखित व्यवस्था लागू की गई है:-

पात्र गृहस्थी योजना के राशनकार्डो पर:-
03 किलो गेहूॅ प्रति यूनिट रू0 02.00 प्रति किलो, 02 किलो चावल प्रति यूनिट रू0 03.00 प्रति किलो

अन्त्योदय अन्न योजना के राशनकार्डो पर:-
20 किलो गेहूॅ प्रति राशनकार्ड रू0 02.00 प्रति किलो, 15 किलो चावल प्रति राशनकार्ड रू0 03.00 प्रति किलो

उन्होंने बताया कि खाद्यान्न वितरण के कार्डधारक अपनी सुविधानुसार पोर्टेबिलिटी सुविधा के अन्तर्गत किसी भी उचित दर दुकान से आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त कर सकते हैं। वितरण प्रथम चक्र (नियमित आंवटन) माह की 05 तारीख से प्रारम्भ होकर 14 तारीख तक सम्पन्न होगा। वितरण की अन्तिम तिथि अर्थात् माह की 14 तारीख होगी, जिस दिन आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त न करने वाले उपभोक्ताओं हेतु मोबाइल ओ.टी.पी. वेरीफिकेशन के माध्यम से वितरण सम्पन्न किया जा सकेगा। मोबाइल ओटीपी वेरीफिकेशन वितरण के समय कार्डधारक से आधार प्रमाणीकरण न होने का कारण तथा उसका/परिवार के किसी अन्य सदस्य का मोबाइल नम्बर संरक्षित किया जाएगा तथा पूर्ति निरीक्षक द्वारा उक्त मोबाइल नम्बर की पुष्टि सुनिश्चित करते हुए कार्डधारक के उक्त मोबाइल नम्बर को राशनकार्ड मैनेजमेन्ट सिस्टम में लाभार्थी के डाटाबेस में फीड कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। उक्त मोबाइल नम्बर का प्रयोग मोबाइल ओ.टी.पी. वेरीफिकेशन हेतु किया जायेगा।

सोशल डिस्टें सिंग का अनुपालनः-
प्रत्येक उचित दर दुकान पर आवश्यक वस्तुओं के वितरण का रोस्टर

05 मई से 07 मई प्रथम पाली (प्रातः 06.00 बजे से अपरान्ह 02.00 बजे तक) अन्त्योदय कार्डधारक
05 मई से 07 मई द्वितीय पाली (अपरान्ह 03.00 बजे से रात्रि 09.00 बजे तक) पात्र गृहस्थी कार्डधारक

08 मई से 13 मई प्रथम पाली (प्रातः 06.00 बजे से अपरान्ह 02.00 बजे तक) पात्र गृहस्थी कार्डधारक (कार्ड अन्तिम संख्या सम)
08 मई से 13 मई द्वितीय पाली (अपरान्ह 03.00 बजे से रात्रि 09.00 बजे तक) पात्र गृहस्थी कार्डधारक (कार्ड अन्तिम संख्या विषम)

समस्त ऐसे कार्डधारक जो निर्धारित रोस्टर के अनुसार खाद्यान्न प्राप्त नही कर पाये हो वह 14 मई को अपने कार्ड पर अनुमन्य खाद्यान्न प्राप्त करेगें। इसके अतिरिक्त निर्धारित रोस्टर के दौरान यदि निर्धारित योजना से इतर योजना का कार्डधारक भी खाद्यान्न लेने हेतु उपस्थित होता है, तो सम्बन्धित उचित दर विक्रेता उन्हे भी खाद्यान्न निर्गत कर सकता है, परन्तु उचित दर विक्रेता द्वारा सोशल डिस्टेन्सिग एवं कोविड-19 के प्रोटोकाल के अन्तर्गत दिये गये निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करता रहेगा।

कोविड-19 वैश्विक महामारी के दृष्टिगत ई-पाॅस से वितरण के समय प्रत्येक उचित दर दुकान पर सैनिटाइजर/साबुन/पानी रखा जाए और हस्तप्रक्षालन के उपरान्त ही ई-पाॅस मशीन का प्रयोग किया जाए। प्रत्येक कार्डधारक के हाथ सैनिटाइज्ड कराने के उपरान्त ही ई-पाॅस मशीन के माध्यम खाद्यान्न निर्गत किया जायेगा। साथ ही समस्त उचित दर विक्रेता अपनी उचित दर दुकान पर 01-01 मीटर की दूरी पर गोले का अंकन करायेगें, जिससे प्रत्येक कार्डधारकों के मध्य कम से कम 01 मीटर की दूरी अवश्य बनी रहे। वितरण के दौरान स्वयं मास्क, सैनिटाइजर का लगातार प्रयोग करेगें तथा कार्डधारकों को गमच्छा, मास्क इत्यादि का उपयोग करने हेतु जागरूक करेगें।
उचित दर दुकानों पर टोकन सिस्टम लागू करते हुये सुनिश्चित किया जाए कि एक दुकान पर एक समय में 05 से अधिक उपभोक्ता न रहे और सोशल डिस्टेन्सिग बनाये रखने के लिए दो उपभोक्ताओ के मध्य कम से कम 01 मीटर की दूरी रखी जाए।

उन्होंने जनपद में प्रचलित समस्त अन्त्योदय व पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को सूचित करते हुए बताया कि सोशल डिस्टेन्सिग हेतु निर्धारित व्यवस्था का अनुपालन करते हुए माह मई, 2021 में निर्धारित वितरण व्यवस्था के अनुसार प्रथम वितरण चक्र (माह की 05 ता0 से 14 ता0 तक) नियमित आंवटित खाद्यान्न उचित दर विक्रेता से अपने-अपने अन्त्योदय/पात्र गृहस्थी कार्ड पर प्राप्त करें। यदि किसी भी प्रकार की असुविधा हो तो उसकी सूचना/शिकायत उचित दर दुकान पर उपस्थित नोडल अधिकारी, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी/पूर्ति निरीक्षक, सम्बन्धित उप जिलाधिकारी अथवा उनसे तत्काल करें, ताकि तदनुसार नियमानुसार जाॅच कार्यवाही कराते हुए समस्या का समाधान कराया जा सके।

Spread the love

About the Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.