डीएम ने की स्वास्थ्य कार्यक्रमों, योजनाओं की मासिक बैठक ,दिए निर्देश स्वास्थ्य योजनाओं में हुई वसूली तो होगी कठोर कार्यवाही :डी एम

(ओमप्रकाश ‘सुमन’)

पलियाकलां (खीरी )लखीमपुर 13 मई। शुक्रवार को डीएम महेंद्र बहादुर सिंह की अध्यक्षता में स्वास्थ्य कार्यक्रमों-योजनाओं की मासिक समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य रूप से सीडीओ अनिल कुमार सिंह, सीएमओ डॉ शैलेंद्र भटनागर मौजूद रहे।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि सभी एमओआईसी लीडरशिप रोल लेते हुए अपने-अपने ब्लॉक में स्वास्थ्य संबंधी शासकीय योजनाओं का जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन सुनिश्चित कराते हुए इसकी डेली मॉनिटरिंग करें व अधीनस्थों का संवेदीकरण करते हुए पूरी टीम भावना से सभी इंडिकेटर्स में बेहतर परिणाम प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि किसी भी स्वास्थ्य योजना में किसी प्रकार की वसूली ना हो अन्यथा कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि ऐसी चिकित्सालय में बेहतर बनाने में जुट जाएं। उन्होंने औषधियों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ चिकित्सालय परिसर में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दे।

सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने कहा कि शहरी-ग्रामीण क्षेत्र में फागिग व एंटीलार्वा एक्टिविटी बढ़ाएं। हैंडपंप के आसपास जलजमाव ना हो, वही हैंडपंप से डेढ़ मीटर दूरी तक नाली बनवाए। सुपरक्लोरिनेशन के साथ पेयजल की सप्लाई सुनिश्चित करें। ग्राम सफाई समिति का गठन कर उन्हें सक्रिय करें। शहरी-ग्रामीण क्षेत्रों के तालाबों में गम्बूसिया मछली डलवाए। आशा-एएनएम फील्ड में सक्रियता से काम करें। डीएम ने विभागीय अधिकारियों से जनसंपर्क एवं जन जागरण, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था, वेक्टर कंट्रोल, वातावरणीय स्वच्छता सहित विभिन्न बिंदुओं पर बिंदुवार समीक्षा की एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बिना पंजीयन के संचालित चिकित्सालय पर करें प्रभावी कार्रवाई, कराए सील : डीएम
डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि सभी एमओआईसी अपने क्षेत्रों में अवैध अस्पतालों पर प्रभावी कार्यवाही करके सील कराए। एक सप्ताह के भीतर यह सुनिश्चित करें कि उनके क्षेत्र में कोई भी अवैध संचालित ना हो, आवश्यकतानुसार अपने एसडीएम का सहयोग ले। उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के बाद अवैध चिकित्सालय संचालित मिलने पर संबंधित एमओआईसी का उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाए।

आयुष्मान लाभार्थियों को फैसिलिटेट करके कराएं लाभान्वित : डीएम
पीएम जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत योजना की विस्तृत समीक्षा की एवं संबंधित को जरूरी निर्देश दिए। योजना के नोडल अधिकारी एसीएमओ डॉ वीसी पंत ने आयुष्मान कार्ड बनने की प्रगति एवं उपचारित मरीजों की संख्या बताइ। डीएम ने निर्देश दिए कि केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इसके लाभार्थियों को फैसिलिटेट करके योजना से लाभान्वित कराया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि हर पात्र एवं जरूरतमंद को योजना से बने गोल्डन कार्ड के जरिए लाभान्वित कराएं।

Spread the love

About the Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.