संस्था प्रमुखों संग छात्रवृत्ति की डी एम ने की बैठक

(ओमप्रकाश ‘सुमन’)

पलियाकलां (खीरी )लखीमपुर 10 अगस्त। बुधवार को वित्तीय वर्ष 2022-23 में पूर्व दशम, दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के तहत डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में अफसरों, विद्यालय प्रबंधक एवं प्रधानाचार्य के संग बैठक की। बैठक का सफल संचालन सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने किया।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम ने कहा कि सरकार की ओर से विद्यार्थियों को प्रदान की जाने वाली पूर्वदशम, दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के दिशा निर्देशों का समयबद्धता से अनुपालन सुनिश्चित कराएं। किसी भी असुविधा की दशा में डीएसडब्लूओ, डीबीडब्लूओ से संपर्क कर उसका निस्तारण कराएं। डीएम ने प्रधानाचार्य, प्रबंधकों से छात्रवृत्ति प्रक्रिया में आने वाली समस्याएं जानी, निस्तारण हेतु संबंधित को निर्देश दिए।

अफसरों ने मौजूद लोगों को छात्रवृत्ति आवेदन, शिक्षण संस्था द्वारा अग्रसारण, पीएफएमएस से डाटा प्राप्त करना, एनआईसी स्कूटनी, छात्रों द्वारा सस्पेक्ट डाटा का करेक्शन, शिक्षण संस्था द्वारा अग्रसारण, करेक्शन के उपरांत एनआईसी से पुनः स्कूटनी, जनपदीय छात्रवृत्ति स्वीकृति समिति द्वारा पात्र छात्रों के आवेदन को डिजिटली लॉक कर अग्रसारण एवं पात्र छात्रों के खातों में धनराशि हस्तानांतरण सहित पूरी प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी दी।

आजादी के अमृत महोत्सव :
स्वतंत्रता सप्ताह, हर घर तिरंगा कार्यक्रम को खीरी में बनाए विशेष, जनमन में जगाए देशभक्ति का भाव : डीएम
डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने जिले के सभी विद्यालयों के प्रबंधकों एवं प्रधानाचार्य से आजादी के अमृत महोत्सव पर स्वतंत्रता एवं अमृत सप्ताह सहित हर घर तिरंगा कार्यक्रम को विशेष बनाने की अपील की। विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों, उनके अभिभावकों को इन कार्यक्रमों से जोड़कर इसे विशेष बनाएं। उन्होंने स्वतंत्रता दिवस पर मनाए जाने वाले विशेष कार्यक्रमों की शुभकामनाएं दी। सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम समेत विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी। हर घर में झंडा फहराने की अपील की।

बच्चों को भविष्य की राह दिखा रही अभ्युदय कक्षाएं : डीएम
14 अगस्त को डीएम स्वयं लेंगे अभ्युदय क्लासेस
डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि विद्यालय मेधावी, प्रतिभावान बच्चों को अभ्युदय कक्षाओं की जानकारी दें, जो छात्रों को भविष्य की राह दिखाने में अहम किरदार निभा रही हैं। यह कक्षाएं उनका उज्जवल भविष्य सुनिश्चित कराने के साथ-साथ प्रतियोगी परीक्षाओं की जानकारी व तैयारी का रास्ता प्रशस्त करेगी। विद्यालय बच्चों को पुस्तकीय ज्ञान के साथ-साथ संस्कारपरक शिक्षा दें और ज्यादा मेहनत के साथ ईमानदारी से प्रतिभा को निखारने में जुट जाए। आप विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावक हैं आपके कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी है, जिसका सम्यक निर्वहन करें। डीएम ने कहा कि वह भी समय-समय पर अभ्युदय कक्षाएं के जरिए बच्चों का मार्गदर्शन भी करेंगे। डीएम ने कहा कि सभी विद्यालय उन बच्चों की सूची डीआईओएस, डायट प्राचार्य एवं डीएसडब्लूओ को प्रेषित करें जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के इच्छुक हैं। उनका पंजीकरण कराते हुए उन्हें कक्षाओं में शामिल किया जाएगा। डीएसडब्ल्यू सुधांशु शेखर ने बताया कि वर्तमान में अभी अभ्युदय कक्षाओं में नीट, जेईई, यूपीएससी की क्लास चल रही है।

डीएम स्वमं लेंगे अभ्युदय की विशेष क्लास, कराएं पंजीकरण
14 अगस्त को डीएम महेंद्र बहादुर सिंह स्वयं अभ्युदय कक्षाओं में बच्चों का मार्गदर्शन करते हुए कलेक्ट्रेट सभागार में विशेष क्लास लेंगे। इस विशेष कक्षा में प्रतिभाग करने के लिए इच्छुक प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले बच्चे जिला समाज कल्याण अधिकारी, डीआईओएस कार्यालय व डाइट में पंजीकरण करा सकते है। सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने सभी इंटर कॉलेजों को नीट, जेईई की तैयारी की इच्छा रखने वाले दुर्बल वर्ग के छात्र की सूची जिला समाज कल्याण अधिकारी जिला विद्यालय निरीक्षक डायट प्राचार्य के पास अनिवार्य रूप से संस्तुति सहित भेजने के निर्देश दिए। पंजीकरण हेतु समाज कल्याण ऑफिस के सौरभ गुप्ता के मोबाइल नंबर 991813975 पर सम्पर्क करें।

Spread the love

About the Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.